Tera Hua Lyrics By Arijit Singh

18/11/2021 61

CHECK OUT The New Tera Hua Lyrics (Hindi/Roman Hindi) By Arijit Singh 2021. The Latest Hindi Song TERA HUA Music is Given By Akull and The Hindi/Roman Hind Song Lyrics are Written By Kunaal Vermaa.

Tera Hua lyrics

Tera Hua Song Details

Song: Tera Hua
Movie: Cash
Singer: Arijit Singh
Music: Akull
Starring: Amol Parashar,Smriti Kalra
Label: Sony Music India
Rattings:

    Avg Rating 5.00 by 1 User(s)

Tera Hua Lyrics 🕮

Don’t know what day it was
but it felt like it was a start of summer
I looked into your eyes for the first time
and realized that I am all yours

Main Wo Dariya Hon
Ab Jispt Tu Behta Hai
Baadal Main Tu Mujhmy
Chand Sa Chhupta Hai

Main Wo Sargam
Tu Jiski Dhun Ke Jaisa Hai
Banky Zameen Tu Hi
Paon Se Lipta

Tera Hua Tera Hua
Main To Tera Hua
Tera Hua Main To Tera
Main Tera Hua

Tu Wo Dhadkan Hai
Ye Dil Jispy Zinda Hai
Main Hon Aakash
Tu Betab Parinda Hai

Tery Dar Pe Ye Safar
Jabsy Tehra Hai
Raat Ke Rahi Ne Payi Subah

Tera Hua Tera Hua
Main Toh Tera Hua
Tera Hua Main Toh Tera
Main Tera Hua

Khushboo Mein Lipti
Subah Ki Tarah
Lagti Ye Teri Hansi

Bas Mein Agr Ho Toh
De Doon Tujhy Saansein
Seeny Mein Jitni Bachi

Tu Hai Baarish Main Hawa
Zid Main Tu Hai Raza
Ghar Main Hon
Tu Pata Ban Gaya

Tu Ziyarat Main Ziya
Rabb Tu Hai Main Dua
Labb Main Hon
Tu Zuban Ban Gaya

Tera Hua Tera Hua
Main To Tera Hua
Tera Hua Main Toh Tera
Main Tera Hua

I’ll be there through the change of the seasons
Starting the fire in my amber

Take my hand and we’ll dance through the rain
and I’ll keep you warm in December

Tu Jis Jagah Bhi Rahy Sath Mein
Sab Kuchh Hai Mera Wahi
Jab Tak Nazar Tujhko Na Dekh Le
Mera Hota Sawera Nahi

Chahta Hon Main Tujhy
Khud Se Bhi 100 Guna
Sabsy Uncha Hai Darja Tera

Tujhsy Ab Ek Pal
Fursat Milti Nahi
Tujhpy Marky Main Jeeny Laga

Tera Hua Tera Hua
Main Toh Tera Hua
Tera Hua Main Toh Tera
Main Tera Hua

न जाने कौन सा दिन था
लेकिन ऐसा लगा कि यह गर्मी की शुरुआत है
मैंने पहली बार तुम्हारी आँखों में देखा
और महसूस किया कि मैं सब तुम्हारा हूँ

मैं वो दरिया माननीय
अब जिस्प तू बहता है
बादल मैं तू मुझम्य
चांद सा छुपा है

मैं वो सरगम
तू जिसकी धुन के जैसा है
बांकी ज़मीन तू हाय
पौन से लिपटा

तेरा हुआ तेरा हुआ
मैं तो तेरा हुआ
तेरा हुआ मैं से तेरा
मैं तेरा हुआ

तू वो धड़कन है
ये दिल जिसी ज़िंदा है
मुख्य माननीय आकाशो
तू बेताब परिंदा है

तेरी दार पे ये सफर
जब्सी तेहरा है
रात के रही ने पाई सुबाह:

तेरा हुआ तेरा हुआ
मैं तो तेरा हुआ
तेरा हुआ मैं तो तेरा
मैं तेरा हुआ

खुशबू में लिपि
सुबाह की तराही
लगती ये तेरी हंसी

बस में आगर हो तोह
दे दून तुझे सांसें
सेनी में जितनी बची

तू है बारिश मैं हवा
ज़िद मैं तू है रज़ा
घर मुख्य माननीय
तू पता बन गया

तू ज़ियारत मैं ज़िया
रब्ब तू है मैं दुआ
लैब मेन माननीय
तू जुबान बन गया

तेरा हुआ तेरा हुआ
मैं तो तेरा हुआ
तेरा हुआ मैं तो तेरा
मैं तेरा हुआ

मैं ऋतुओं के परिवर्तन के माध्यम से वहाँ रहूँगा
मेरे अंबर में आग लगाना

मेरा हाथ थाम लो और हम बारिश में नाचेंगे
और मैं आपको दिसंबर में गर्म रखूंगा

तू जिस जग भी रहे साथ में
सब कुछ है मेरा वही
जब तक नज़र तुझको न देख ले
मेरा होता सवेरा नहीं

चाहता मान मैं तुझे
खुद से भी 100 गुना
सब्सी ऊंचा है दरजा तेरा

तुझसी अब एक पली
फुर्सत मिल्टी नहीं
तुझी मार्की मैं जेनी लगा

तेरा हुआ तेरा हुआ
मैं तो तेरा हुआ
तेरा हुआ मैं तो तेरा
मैं तेरा हुआ

Tera Hua Video




Akull Arijit Singh Sony Music India Cash

Latest Music Lyrics 2020